I’ll Find A Place

-Vinayana Khurrana I’ll find a place,Over the mountains,Across the sea,Where there’s no worries,Of what maybe,I’ll find a place,Where everything is at peace,I’ll find a place,Away from this disease,I’ll find a place,Where you belong,With me,Where there’s love,And safety,Where there’s a reason,For…

अभी कहानी बाक़ी है

अब मैंने सोचा जी शुक्रिया याद दिलाने के लिएअरे, और क्या अच्छा सुझाव थाबारिश हो रही थी, किताब हाथ में थीचाय की कमी थी, पर पढ़ते पढ़ते ध्यान नहीं दिया थातुरंत उठ गए हम और बना ली चाय, फिर पढ़ने…

एहसास

कुछ ऐसा हुआ कि रुक गयी मैं,जैसे शोर और हलचल के बीच थम गयी मैं। कुछ अच्छा सा नहीं लग रहा था,बातें, हँसीं, चेहरे, कुछ सच्चा सा नहीं लग रहा था।तो रुक गयी मैं। समझने की कोशिश की पर समझ नहीं…

खूबसूरत मोड़

कुछ अल्फ़ाज़ों की कमी थी शायदकहा कुछ पर वो समझ कुछ और रहे थेजहां चल पड़े थे वो रास्ते अनजान थे वो सड़कें सुनसान थीं, वो चेहरे गुमनाम थे एक मोड़ शायद ग़लत ले लिया था उन्होंने बताने वाले भी…

जमाल-ए-आलम

अभी काफी बार गिरना बाकी है अभी काफी बार डगमगाना बाकी है हक़ीक़त से वाकिफ हूं मेरे ख़ुदा मगर हौसला अभी भी बाकी है जब तक आफताब की किरणे मुझसे मायूस नहीं होती जब तक हवाएं मुझसे अफ्रार – ए…

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top